24 घंटे के अंदर घोड़ासहन पीएचसी के दोषी कर्मी को निलम्बित करे सरकार,अन्यथा होगा अनिश्चितक़ालीन अनशन: आकाश सिंह

24 घंटे के अंदर घोड़ासहन पीएचसी के दोषी कर्मी को निलम्बित करे सरकार,अन्यथा होगा अनिश्चितक़ालीन अनशन: आकाश सिंह
जाप के छात्र जिलाध्यक्ष आकाश कुमार सिंह

राहुल कुमार, घोड़ासहन पूर्वीचम्पारण: बीते दिनो घोड़ासहन स्थित मदरसा चौक पर अज्ञात मज़दूर के बेहोशी के बाद मौत का मामला अब तूल पकड़ लिया हैं ,मामले को लेकर जन अधिकार पार्टी(लोक) के छात्र ज़िलाध्यक्ष आकाश कुमार सिंह ने ज़िला अधिकारी को पत्र लिखकर घोड़ासहन पीएचसी प्रभारी समेत दोषी सभी दोषी कर्मियों को निलबित करने की माँग की हैं।


यह भी पढ़े : घोड़ासहन पुलिस ने मटर गश्ती करते 23 बाइकर्स को जब्त कर काटा चालान

जाप छात्र परिषद् के ज़िलाध्यक्ष आकाश कुमार सिंह ने जिलाधिकरी को पत्र में कहा हैं कि भूख के वजह से बेहोश पड़े मज़दूर को एम्बुलेंस द्वारा हीन दृष्टि से देखते हुए मज़दूर को नही ले गयी ,लेकिन बाद में घोड़ासहन थानाध्यक्ष और स्थानीय मुखिया राजू जयसवाल के सकारात्मक पहल पर उक्त मज़दूर को पीएचसी इलाज के लिए लाया गया लेकिन पीएचसी प्रभारी समेत अन्य कर्मियों द्वारा मज़दूर का इलाज नही किया गया।

श्री सिंह ने बताया की जब पीएचसी द्वारा मज़दूर को सदर अस्पताल भेजा गया तो वहाँ भी पीएचसी के एम्बुलेंस चालक द्वारा लापरवाही की गयी और मज़दूर को बिना भर्ती किए हीं अस्पताल के फ़र्श पर रख कर वापस आ गया और 15घंटे तक उसी हाल में रहने के बाद मज़दूर की मौत हो गयी.ज़िलाध्यक्ष आकाश कुमार सिंह ने जिलाधिकरी को पत्र लिखकर घोड़ासहन पीएचसी प्रभारी समेत इस घटना में दोषी कर्मियों को निलम्बित करने के लिए 24 घंटे का एलटीमेटम दिया हैं।


यह भी पढ़े : होमीयो पैथ चिकित्सकों नेअपने अपने घरों में मनाई हैनीमैन की जयंती

श्री सिंह ने कहाँ की अगर 24 घंटे के अंदर पीएचसी प्रभारी समेत अन्य कर्मी को निलम्बित नही किया गया तो जन अधिकार छात्र परिषद् सोशल डिस्टेनसिग का पालन करते हुए अनिश्चितक़ालीन अनशन करेगी,मामले की जानकारी अकाश सिंह ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी ।