देश में पहली बार पटना AIIMS में 30 साल के युवक को दिया गया कोरोना वैक्सीन का पहला डोज

देश में पहली बार पटना AIIMS में 30 साल के युवक को दिया गया कोरोना वैक्सीन का पहला डोज

रजनीश कुमार उर्फ़ मिठु गुप्ता कि रिपोट


यह भी पढ़े : मशहूर अभिनेता ऋषि कपूर का हुआ निधन,फिल्म जगत में शोक की लहर

पटना एम्स में देश में पहली बार कोरोना से जारी जंग को जीतने के लिए पहला हथियार तैयार करने की कवायद शुरू कर दी गई है। देश में सबसे पहले पटना एम्स ने काेराेना वैक्सीन का एक 30 साल के युवक पर ट्रायल किया और आज छह लोगों पर इसका ट्रायल होगा, इसके लिए 18 लोगों का टेस्ट हो चुका है। अभी तक कोरोना वैक्सीन का ऐसा ट्रायल देश के किसी भी संस्थान में नहीं हुआ है।

 


यह भी पढ़े : लॉकडाउन बढ़ने के दौरान दो हफ्ते इन चीजों पर लगी रहेगी पूरी तरह से रोक

इस तरह से पटना एम्स कोरोना से लड़ाई के लिए सबसे पहले सामने आया है। पटना एम्स के एमएस डाॅक्टर सीएम सिंह ने कहा कि काेराेना की वैक्सीन हैदराबाद की भारत बायाेटेक कंपनी और आईसीएमआर ने बनाई है। इसी का पटना एम्स समेत देश के 12 संस्थानाें में ट्रायल हाेना है, जो सबसे पहले पटना एम्स में शुरू हो चुका है।बुधवार को पटना एम्स में बनी एक्सपर्ट की टीम ने एक 30 साल के युवक पर वैक्सीन का ट्रायल किया। उसे हाफ एमएल डाेज दिया गया। डाेज देने के बाद करीब चार घंटे उसे आब्जर्वेशन में रखा फिर घर भेज दिया गया है। सात दिन के बाद फिर इसी शख्स काे बुलाया गया है। 14 दिन के बाद फिर उन्हें सेकंड डाेज दिया जाएगा। उसके बाद उसका परीक्षण किया जाएगा।