अरेराज में पुनः 25,901 घरों का कोविड-19 संक्रमण का जाँच सर्वे कार्य प्रारंभ किया जाएगा।

अरेराज में पुनः 25,901 घरों का कोविड-19 संक्रमण का जाँच सर्वे कार्य प्रारंभ किया जाएगा।

आशुतोष कुमार तिवारी, अरेराज(पूर्वी चंपारण)


यह भी पढ़े : सिपाही और महिलाओं को भी किया जाएगा अवेयर, बनेगा साइबर सेनानी ग्रुप

अरेराज प्रखंड  में पुन: 25,901 घरों का आशा के द्वारा कोविड-19 संक्रमण का पता लगाने के सर्वे कार्य प्रारम्भ किया जायेगा।सरकार के निर्देशानुसार बिहार में सभी घरों का भ्रमण कर वृद्ध, अत्यधिक बीमार, गर्भवती महिला और पाँच वर्ष से कम उम्र के बच्चे के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए सर्वे करवा रही है.

इस कार्यक्रम के तहत अरेराज में 132 आशा 25,901घरों का भ्रमण कर संबंधित लोगों की सुची बनायेगी. सुची बनाने के बाद 0 से पाँच वर्ष तक के बच्चों की सुची सेविका को दी जायेगी. सेविकाओं के द्वारा इन बच्चों के स्वास्थ्य पर कारोना के प्रभाव पर नजर रखेगी. संक्रमण का लक्षण नजर आने की स्थिति में तत्काल अस्पताल को सुचित करनी होगी और उनके चिकित्सा की व्यवस्था की जायेगी।


यह भी पढ़े : कानून का डर नही चोरी छिपे हो रहे बाल विवाह, शिकायत के बावजूद भी नहीं होती कार्रवाई

इसी तरह अन्य सभी संबंधित लोगों में कोविड-19 संक्रमण पर नजर आशा रखेंगी। 30 जुन को अरेराज अनुमंडलीय अस्पताल के उपाधीक्षक की अध्यक्षता में सर्वे के लिए समीक्षात्मक बैठक 11 बजे से होगी जिसमें अरेराज प्रखण्ड के प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, सीडीपीओ, एलएस, सभी फैसिलीटेटर भाग लेंगे।

डब्लूएचओ  नरोतम कुमार के अनुसार कोविड-19 के महामारी से बचाने के लिए पाँच वर्ष से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिला, वृद्ध एवं अत्यधिक बीमार पर कड़ी नजर रखी जायेगी। इस सर्वे के माध्यम से हर घरों की निगरानी सरकार निरंतर करेगी।


यह भी पढ़े : रामगढ़वा : जिलाधिकारी द्वारा दिए गये दिशा-निर्देश पर ही बाजारों में खूलेगी दुकाने

अरेराज अनुमंडलीय अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ एसएन सत्यार्थी के अनुसार इस कार्यक्रम में आशा ,आँगनवाड़ी की पुर्ण समर्पण के साथ भागीदारी की जरुरत है. सर्वे कार्य की कड़ी मानिटरिंग भी की जायेगी.