केसरिया CO और BDO पर अनिकेत रंजन ने लगाया भ्रटाचार का आरोप...।

केसरिया CO और BDO पर अनिकेत रंजन ने लगाया भ्रटाचार का आरोप...।

मिठु गुप्ता कि रिपोर्ट


यह भी पढ़े : पूर्वी चम्पारण का एक व्यक्ति निकला कोरोना पॉजिटिव


केसरिया के पीतांबर चौक पर समस्याओं को गिनवाते हुए पूर्व लोक सभा प्रत्यासी अनिकेत रंजन ने केसरिया CO पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि संग्रामपुर कल्याणपुर और केसरिया यह तीनों प्रखंड ऐसे हैं जहां के तीनों सर्किल ऑफिस के कार्यालयों में किसानों को मजदूरों को एवं आम जनता को लूटने का  जो काम चल रहा है सरासर गलत है।

पैसा लेकर उनका भी भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र बना दिया जाता है एवं जमीन का रसीद काट दिया जाता है  जिनके पास एक कठ्ठा भी जमीन नहीं है। भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया है तीनो प्रखंड ।


यह भी पढ़े : काठमांडू से घर लौट रहे दस लोगो को घोड़ासहन प्रखंड के बॉर्डर पर रोका गया

 

 वही अनिकेत रंजन का कहना है कि सत्ता में बैठे हुए जितने भी नेता है उन्होंने पिछले पांच से 10 सालों में आज तक एक बार भी विकास का मुद्दा हो, अस्पताल के भी मामले पर जोर नहीं दिया है और ना ही विकास होने दिया, चाहे धनगड़ाहा से भवानीपुर का रोड, पकड़ी का हॉस्पिटल हो ,ठिकहा भवानीपुर का रोड हो, केसरिया चौक से बौद्ध स्तूप तक का रोड लाइट का मामला हो, शौचालय का मामला हो, प्रखंड में भारी घूसखोरी करके इंदिरा आवास में गड़बड़ी घोटाले का मामला हो, राशन कार्ड में गड़बड़ी का मामला पूरा केसरिया विधानसभा क्षेत्र के किसी भी गरीब के पास जरूरतमंदों के पास राशन कार्ड नहीं है सरकार का वादा भी झूठा साबित हुआ है कोई भी समस्या हो कुछ भी कंट्रोल नहीं हो सका है यहां सिर्फ और सिर्फ क्षेत्र के जनता को ठागने का काम हुआ है झूठा सपना दिखाने के काम हुआ है एवं उनके भावनाओं के साथ खेला गया है।


यह भी पढ़े : मोतिहारी: क्वारंटीन पीरियड पूरा होने पर मंत्री ने माला पहनाकर दी विदाई, घर गए प्रवासी

 


वही केसरिया प्रखंड अध्यक्ष अभिषेक पांडे ने बताया कि संस्थापक अध्यक्ष अनिकेत रंजन जी के द्वारा जो भी मांग रखी गई है उसके लिए बिहार नवयुवक सेना पिछले 4 सालों से लगातार प्रदर्शन धरना भूख हड़ताल एवं मांग किए जा रही है बावजूद इसके यहां के स्थानीय विधायक और सांसद इस अंतरराष्ट्रीय मुद्दे को भी सुनने को तैयार नहीं है.


यह भी पढ़े : वैशाली: लद्दाख़ के गलवान घाटी में शहिद जवान जय किशोर के पार्थिव शरीर को लाया गया पैतृक गाँव

 


वही पितांबर चौक पर अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करते हुए मुख्य रूप से मुन्ना सैनी संदीप यादव सुधीश शर्मा संदीप चौबे राहुल द्विवेदी अंशु त्रिवेदी राहुल सिंह शुभम सिंह पुष्कर कुमारकेसरिया के पीतांबर चौक पर समस्याओं को गिनवाते हुए पूर्व लोक सभा प्रत्यासी अनिकेत रंजन ने केसरिया CO पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि संग्रामपुर कल्याणपुर और केसरिया यह तीनों प्रखंड ऐसे हैं जहां के तीनों सर्किल ऑफिस के कार्यालयों में किसानों को मजदूरों को एवं आम जनता को लूटने का  जो काम चल रहा है सरासर गलत है पैसा लेकर उनका भी भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र बना दिया जाता है एवं जमीन का रसीद काट दिया जाता है  जिनके पास एक कठ्ठा भी जमीन नहीं है। भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया है तीनो प्रखंड ।


यह भी पढ़े : हफ्ते में तीन दिन खुलेंगी इलेक्ट्रिक, इलेक्ट्रॉनिक गुड्स और ऑटोमोबाइल्स से सम्बंधित दुकानें, डीएम ने दिया निर्देश

 

सत्ता में बैठे हुए जितने भी नेता है उन्होंने पिछले पांच से 10 सालों में आज तक एक बार भी विकास का मुद्दा हो, अस्पताल के भी मामले पर जोर नहीं दिया है और ना ही विकास होने दिया, चाहे धनगड़ाहा से भवानीपुर का रोड, पकड़ी का हॉस्पिटल हो ,ठिकहा भवानीपुर का रोड हो, केसरिया चौक से बौद्ध स्तूप तक का रोड लाइट का मामला हो, शौचालय का मामला हो, प्रखंड में भारी घूसखोरी करके इंदिरा आवास में गड़बड़ी घोटाले का मामला हो, राशन कार्ड में गड़बड़ी का मामला पूरा केसरिया विधानसभा क्षेत्र के किसी भी गरीब के पास जरूरतमंदों के पास राशन कार्ड नहीं है सरकार का वादा भी झूठा साबित हुआ है कोई भी समस्या हो कुछ भी कंट्रोल नहीं हो सका है यहां सिर्फ और सिर्फ क्षेत्र के जनता को ठागने का काम हुआ है झूठा सपना दिखाने के काम हुआ है एवं उनके भावनाओं के साथ खेला गया है।

 


वही केसरिया प्रखंड अध्यक्ष अभिषेक पांडे ने बताया कि संस्थापक अध्यक्ष अनिकेत रंजन जी के द्वारा जो भी मांग रखी गई है उसके लिए बिहार नवयुवक सेना पिछले 4 सालों से लगातार प्रदर्शन धरना भूख हड़ताल एवं मांग किए जा रही है बावजूद इसके यहां के स्थानीय विधायक और सांसद इस अंतरराष्ट्रीय मुद्दे को भी सुनने को तैयार नहीं है।


वही पितांबर चौक पर अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करते हुए मुख्य रूप से मुन्ना सैनी संदीप यादव सुधीश शर्मा संदीप चौबे राहुल द्विवेदी अंशु त्रिवेदी राहुल सिंह शुभम सिंह पुष्कर कुमार सूरज साह अमन कुमार अरविंद कुमार छोटू कुमार सोनू कुमार रवि कुमार नितेश कुमार ठाकुर आदि शामिल थे ।